प्यार की पाती || लव मैरेज अरेंज मैरिज और कुछ उखाड़ना

Hey #UNKNOWN

हाँ क्यूंकि अभी तुम्हारा अता पता दोनों ही लापता है | सुनो 2017 का Happy Valentine day  , अरे घबराओ नहीं तुम जिस साल भी मुझ से मिलो तो मैं तुम्हे अपनी ज़िन्दगी के पहले साल से लेकर उस साल जिस साल तुम मुझे मिलोगी तब तक के सारे वैलेंटाइन डे विश कर दूंगा और सिर्फ वैलेंटाइन डे ही क्यूँ हम तो पूरे साल इश्क का त्यौहार मनाएंगे |

मैं पिछले हफ्ते कुछ यूथ से बात कर रहा था . मुद्दे की बात पर लाने के लिए मैं अक्सर मुद्दे से अच्छी तरह से भटका के बात शुरू करता हूँ तो फिर टॉपिक पर लाना आसान रहता हैं | एक ने मुझ से पूछा सर अरेंज मैरिज और लव मैरेज में क्या फर्क है ? मैंने कहा यार एक उम्र तक स्कूल में कॉलेज में हम बहुत ट्राय करते हैं | कुछ से पट जाती है और लम्बी पटती है और फाइनली दोनों शादी कर लेते हैं तो उसे लव मैरिज कहते हैं, हाँ लव के मैरिज तक पहुँचने के बीच काफी अलग अलग तरह के मैलो ड्रामा भी होते हैं पर उन ड्रामों का किरदार बनने के बाद जब नाटक ख़त्म होता है तो विजेता ट्रॉफी यानि तुम्हारी लवर तुम्हारी धर्म पत्नी तुम्हारे पास होती है |

तो सर फिर अरेंज मैरिज क्या है ? एक ने बड़ी मासूमियत से पूछा तो मैंने जवाब दिया भाई जब अपने पूरे बचपन और जवानी में तुमसे कुछ नहीं उखाड़ता , किसी ने तुम्हे कभी घास नी डाला होता या कभी तुम्हारे दिल के प्यार के बीज को सामने की तरफ से खाद पानी और मिटटी नहीं मिलती तो तुम अपने घर वालों को अपनी जगह पर उखाड़ने भेजते हो | और जब वो तुम्हारे लिए कुछ उखाड़ देते हैं और तब उनकी मेहनत पर तुम बिजेता ट्रॉफी लेकर भीड़ के सामने फोटो खिचवाते हो तो उसे अरेंज मैरिज कहते हैं |

उस्ताद बनने की कोशिश में एक ने सवाल दागा सर मैं समझ गया अच्छे से पर क्या कुछ उखाड़ना जरुरी है ? भाई मेरे कुछ नया और अच्छा लगाने के लिए पुराना उखाड़ना बहुत जरुरी है ... मैं हाज़िर जवाबी दिखाते हुए कहा |

सुनो यार मुझे अब लगने लगा है कि इतने सालों में मैं भी कुछ नी उखाड़ पाया और मैंने तो वैसे भी हिमांचली सेब को देहरादून की जमीन पे उगाना चाहा कहाँ से कुछ उगता कुछ ? भारत के कोने कोने की जमीन को कुछ उखाड़ने के लिए तलाशा पर शायद मिटटी कुछ ज्यादा ही शख्त थी ... खैर

इंतजार है तुम्हारा वैसा ही जैसे एक बिखरे बालों को समेटने वाली क्लिप या बैंड का .. इंतजार है तुम्हारा मुझे अपने किस्से कहानियां समेटने के लिए , इन्तजार है तुम्हारा मुझे उस स्वेटर को बुनने के लिए जिसकी आखिरी सलाई तुम हो | इंतजार है मुझे तुम्हारा ऑनलाइन बैंकिंग के #OTP पासवर्ड की तरफ जिस के बिना हम कभी शौपिंग नहीं कर सकते ... इंतजार है मुझे तुम्हारा....
ये शायद मेरा तरीका हो कुछ उखाड़ने का ....अपने घर वालों को कुछ उखाड़ने भेजने से पहले ...



तुम्हारा
कुछ भी बुला लेना प्यार से तुम्हारी मर्ज़ी
J
        

Comments

Popular Posts