Friday, September 09, 2011

घर के भगवान्




इन धर्म के ठेकेदारों की बात मानता रहा मै जिंदगी भर ....
बेजान पत्थरों को भगवान् मानता रहा में जिंदगी भर ...
सोचा की खुदा तक पहुँचने का रास्ता सिर्फ इस की इबादत से ही है .....
और इस लिए अपने घर के भगवान् (माँ ,बाप)को पानी तक न पूछा जिंदगी भर ....